Dard sad Shayari – घट रहा जो मेरे अंदर वो मैं ही हूँ…

Dard sad shayari is another very touching and high searched shayari by the SHAYARI lovers who wants to express their sadness through sad words

|| dardbhari shayari…(दर्द शायरी )

घट रहा जो मेरे अंदर वो मैं ही हूँ,
पल – पल बढ रहा मुझमें वो दर्द है।


धीरे – धीरे ऊर्दू लहजे से भीग रहा हूँ मै,
जान से इश्क़, दिल से उर्दू, बात-बात मे शायरी सीख रही हूँ मै।


मोहब्बत से मैने कल क्या गजब का बदला लिया।
एक कागज़ पर लिखा मोहब्बत फिर कागज ज़ला दिया।


लिखते ही जा रहे हो साहब,..
इश्क़ हो गया, या फिर खो गया ?


महकते फूलों से मोहब्बत है जिन्हें अब उन्हें खबर कर दो,
चुभ जाने वाले कांटे भी कई अरमान रखते हैं!


|| best hindi sad shayari on dard

खाब क्यू टूटते हैं अन्धेरी रातों में ही
क्या सपने नही आते या वजह कुछ और है


फ़रियाद करूं भी तो किससे आखिर
खुदा भी तो तुम्हे ही माना था।……!!


शिकायत जिन्दगी से नही
उनसे है जो जिन्दगी में नही…!


बेपनाह मोहब्बत है मुझे.
एक बेपरवाह शख्स से..


लाख मोहब्बत सही तेरे अंदाज में,
औरों से तेरा बात करना भी मुझे ज़हर सा लगता है।


|| unsune dard bhare alfaaz – sad quotes

पीने वाले हजार हैं
इस लिए पिलाने वाले भी बेकरार हैं..!


अगर रब पूछेगा तेरी हसरत क्या है
कह देंगे करार उसे भी न मिले
जो हमें बेकरार कर गया…


कोई है तो नही मेरे भूखे रहने पर जिसे ऐतराज़ हो…
क़ैदख़ाने में तेरी तस्वीर रहती तो मुस्कुरा कर सज़ा काट लेते!


अगर मोहब्बत की हद नहीं कोई…
तो दर्द का हिसाब क्यूँ रखू


पहला मोहब्बत अक्सर कई बात सिखा कर जाता है,
दूसरी बार जब करना इक हद में ही करना ।

|| 2 lines sad status on dard shayari

मुझे डर लगता है अब तारीफ करने में आपकी,
कहीं पूंछ ना बैठो मै लगता कोन हूँ तेरा।


इल्जेमात तमाम लगती रही मुझ पर – हर रोज़ नयी – नयी,
सबसे हसीन लगा वो इल्जाम जो तुझसे मेरे वफ़ा का था!


मेरी रूह से लिपटे रहते है, तेरी यादों के अहसास।।
अब कैसे बताऊँ दुनियाँ को,
तू दूर है या फिर पास.


उन्हें ये ज़िद थी कि हम बुलाते,
हमें ये उम्मीद कि वो पुकारें।


sad hindi 2 line shayari

hindi sad shayari

sad shayari hindi text –

sad shayari for love –