Propose status in hindi collections

Izhaar shayari and status collections

जबाब मांगा था मैंने कुछ बात जो अलग थे ।
उन्होंने मोहब्बत का इज़हार करके कमाल कर दिया ।

संभाल कर रखना मेरे इज़हार-ए-मोहब्बत को उम्र भर ।
किसी भी मोड़ पर ठोकर लगे तो हाँ में जबाब कह देना ।

होस में रहकर उनको सोचता,समझता और खोजता बहोत है मेरा दिल इजहार-ए-मोहब्बत करने में एक घूंट सराब का बे-मिशाल साबित हो गया ।

जाम की आदतें और धुँआ में जिंदगी था ।
उनका इज़हार ही बहोत था कोई दवा जरूरी ही नही था ।

हजारो रंग में वो सबसे खूबसूरत सी रंग है ।
अंधेरा सा सूरज कैसे मोहब्बत का इज़हार कर दे ।

ज़ख्म दिखा दिखा कर उन्होंने मुझको समझा दिया था ।
इज़हार मोहब्बत का कर दो या मिट्टी में दफन कर दो ।

नमक सा जिंदगी में कोई शहद सा मिठास कर दे ।
किसी से प्यार तो नही है कोई भी इज़हार कर दे ।

सबसे अकेले रहते थे और भीड़ में भी तन्हा कर दिया ।
मोहब्बत से दूर रहे थे उम्रभर उन्होंने मोहब्बत का इजहार कर दिया ।

इज़हार-ए-मोहब्बत करके जब ना में जबाब मिला हमको ।
तब समझ आया शायरी का धंधा बहोत कठिन है ।

जन्नत का भ्रम देकर उन्होंने मोहब्बत सीखा दिया था ।
इज़हार किया तो बताया खुद से करने को कहा था ।

कहते हैं नफरत वाले “वक्त का हर सय गुलाम होता है” ।
मोहब्बत इज़हार करने से पहले मुझको यही लगा था ।

check out latest dard shayari and propose status in hindi

जुनून बहोत था जब मैं नफरत को कहता था सही है ।
ऐसा किया तब्दीली की किताब से नफरत ही हटा दी ।

करते नही हैं उनसे अब कोई जिक्र मोहब्बत का ।
अब इज़हार कर दिया आगे जबाब उनका ।

सुक्र है इज़हार करना सीखा ही नही था ।
सिख गए होते बर्बादी से कहाँ बचते ।

ख़ास कह कह कर उन्होंने रिश्ता बदल दिया था ।
हम दोस्त समझते थे उन्होंने मोहब्बत बना दिया था ।

हर रोज दर-बदर दीदार किया करते थे ।
उन्हें क्या पता हम बहोत प्यार किया करते थे ।

ना में समझना था वो हाँ में कहाँ समझती ।
जिसे इज़हार नही करना मोहब्बत कहाँ करती ।

होस में बेहोशी सी बातें किया करते है आजकल ।
एक वक़्त हम मोहब्बत वालो को सताया बहोत करते थे ।

नाम सुनकर वो मेरा – ऐसे नजर बदल सी जाती है ।
इज़हार जब किया था कसम से ऐसे तो नही थी ।

कहती नही वो मुझसे मोहब्बत है उसे कितना ।
मुस्कुराना भूल गयी है एक बिरान जिंदगी सी ।

ना काफी था उसका जताना प्यार मुझको ।
वो नादान सी गुस्सा में सब बता दी ।

रिवाज़-ए-मोहब्बत में धोखा नही लिखा है ।
धोखा तो वही है जहाँ मोहब्बत ही नही है ।

One Comment on “Propose status in hindi collections”

Leave a Reply

Your email address will not be published.